Oldest planet of the Universe – PSR B1620-26 B (ब्रह्मांड का सबसे पुराना ग्रह)

सन 2003 में नासा के हबल टेलिसकोप के माध्यम से ये जानकारी मिली, के हमारी गेलेक्षि के छोर पर एक एसा ग्रह है जिसकी आयु लगभग 13 अरब वर्ष है. ये ग्रह द्रश्य ब्रह्मांड का अब-तक का सबसे बूढ़ा ग्रह माना जाता है. यह हमारी पृथ्वी से लगभग सात अरब साल पुराना है, और इसका जन्म बिग-बेंग (महाविस्फोट) के कुछ ही करोड़ वर्ष पश्चात हुआ था.

ब्रह्मांड के इस सीनियर सिटिज़न का नाम है PSR B1620-26 b. इसके दो और अनोफ़ीसीयल (Nickname) भी है. जिनमे से एक है “Methuselah” और दूसरा “The Genesis Planet”. ये ग्रह हमारी पृथ्वी से 12,400 प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित है. और इसका घनत्व गुरु ग्रह से दो गुना अधिक है.

मज़े की बात ये है की यह एक Circumbinary planet है. Circumbinary planet उस ग्रह को कहते है जो एक नहीं पर दो दो तारो के चक्कर लगता है. ये जिन दो तारो का चक्कर लगा रहा है उन्मे से एक पल्सर स्टार (pulser star) है और दूसरा वाइट ड्वोर्फ (white dwarf) है. इतना ही नहीं, ये दो तारे भी १४ करोड़ किलोमीटर के अंतर से एक दूसरे का चक्कर काट रहे है.

इस ग्रह का सर्व प्रथम उल्लेख रॉनाल्ड बेकर (Ronald Backer) नाम के वैज्ञानिक ने किया था, बाद में हबल टेलिसकोप ने उसकी पुष्टि की थी. हमारे ब्रह्मांड में 13 अरब सालों से लेकर अब-तक कोई ग्रह मोजुद है वो अपने आप में ही एक बहोत बड़ी बत है. इतने बूढ़े ग्रह के अस्तित्व को आप ब्रह्मांड एक का अजूबा ही मान सकते हो.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *