Author: Hiteshgiri Gosai

What is Gaganyaan Mission? (Hindi) ISRO Gaganyaan Mission 2022, गगनयान मिशन 2022.

सबसे पहेले ISRO के बारेमे एक बात स्पष्ट कर दूँ, के वैज्ञानिक डो. विक्रम साराभाई के दिशासिचान अनुसार ISRO का ध्येय हमेशा से ही अमेरिकन और रशियन स्पेस एजेंसीज से अलग रहा है. ISRO सेन्सिंग, संदेशाव्यहवार, हवामन का निरीक्षण जैसे व्यहवारलक्षि और लोक-उपयोगी प्रोजेक्ट्स को आगे बढ़ाता रहा. इंसान को चाँद पर भेजना, गुरु और …

मिल गया चन्द्रयान 2 (विक्रम लैंडर) Chandrayaan 2 Latest Update

हमने चंद्रमा पर एलिमेंट्स और पानी की खोज में 22 July 2019 के दिन चन्द्रयान-2 (एक यान) को लोंच किया था. हमारा चन्द्रयान-2 पृथ्वी के ओर्बिटल चक्कर काट कर चाँद के ऑर्बिट में सफलतापूर्ण प्रवेश कर चुका था. और 7 August 2019 को वो चाँद पर उतरने के लिए तैयार ही था. लेकिन महज़ चाँद …

एक सेकंड में क्या होता है? (What Happens in one Second?)b

दोस्तों क्या चले आज जानते है एक सेकंड जितने मामूली समय अंतराल में दुनिया में क्या क्या हो जाता है! -एक सेकंड में दुनिया कोककोला के 10,450 केन गटक जाती है. -बिल गेट्स 15,000 रुपए कमा लेता है. -धरती सूर्य के चक्कर लगाने में 30 km आगे बढ़ जाती है, और मिल्की वे के सेंटर …

हाम चिम्पांज़ी की कहानी Story of Ham Chimpanzee in Hindi

फ़्रान्स के केमरुन में जन्मे एक क्यूट से दिखने वाले चिम्पांज़ी को कुछ लोगोने उसकी माँ से छिन कर मियामी के एक Zoo को बेच दिया था. उसके बाद इस चिम्पांज़ी को US Airforce ने ख़रीद लिया. और 1959 में इसे हेल्लोमेन एरबेज पर लाया गया. यहाँ हाम जैसे कई और चिम्पांज़ी भी थे. और …

Laika Dog Story in Hindi – अंतरिक्ष में जाने वाली पहली जानवर लाइका

Laika स्पेस में ट्रैवल करने वाली पहेली एनिमल थी. Laika से पहेले कुछ इन्सेक्टस और ऐल्बर्ट-1 नाम के एक बंदर ने भी आंतरिक्षयात्रा की थी. लेकिन वो सीफ अर्थ की सब-ओर्बिटल सीमा तक ही सीमित थी. इसी लिए एक्चुअल स्पेस में सफ़र करने वाले पहेले जानवर का ख़िताब Laika के नाम रहा. सन 1950, ये …

1 से 11 डायमेंशन (1 to 11 Dimensions Explained)

इस पूरी दुनिया का अस्तित्व डायमेंशनस के ऊपर टिका है, डायमेंशन के बिना ब्रह्मांड का भी कोई वजूद नहि हो सकता क्यूँकी ब्रह्मांड ख़ुद डायमेंशन में मौजूद है. आप इसे यूँ कह सकते है के ब्रह्मांड के निर्माता ने दुनिया को और इंटरेस्टिंग बनाने के लिए इसे डायमेंशनस में सजाया है. तो चले आज जानते …

ISRO में जॉब कैसे पाए? How to get Job in ISRO India? (ISRO salary and job qualification)

Indian Space Research Organization किस स्थापना 15 अगस्त 1969 में हुई थी इसका हेडकोटर बेंगलुरु में है. इस भारतीय ऑर्गनिज़ेशन की बहोत सारी उपलब्धियाँ है. और आज ISRO को दुनिया की सबसे रिस्पेक्टेड और बेहतरीन स्पेस एजेंसी में से एक माना जाता है. इस लिए ISRO में नोकरी पाना किसी के लिए भी गर्व की …

स्पेस-साइंस की शाखाओं के नाम? (Branches of Space Science)

एस्ट्रोनोमी (Astronomy) स्पेस साइंस की इस शाखा में सूर्य, चंद्र, अन्य ग्रह, तारे, उल्का, गेलेक्षि जैसे विषयों पर अध्ययन किया जाता है. एस्ट्रोफिजिक्स (Astrophysics) इस शाखा में तारो के जन्म और मृत्यु, निहारिकाओ के निर्माण और सौर मंडल की अन्य पिंडो का अध्ययन भौतिकी और रसायन शास्त्र के नियमो के आधार पर किया जाता है. …

नासा में एस्ट्रोनौट्स को कैसे दी जाती है ट्रेनिंग? Training of Astronauts in NASA

एस्ट्रोनॉट बनने की ट्रेनिंग में उम्मीदवार की सहनशक्ति को ललकारा जाता है. इसमें उसकी फिजिकल, साइकोलॉजिकल और बौद्धिक सीमा का पता चल जाता है. जिन उम्मीदवारों का सिलेक्शन हो जाता है उन्हें 2 साल की फ़ाइनल ट्रेनिंग दी जाती है जिसमें उम्मीदवारों को वास्तविक स्पेस मिशन में काम में आने वाली स्किल सिखाई जाती है. …

NASA में एस्ट्रोनौट बनने के लिए क्या रिकवयमेंट होती है? How to become astronaut in NASA?

NASA (The National Aeronautics and Space Administration) ये United States की ऐरो-स्पेस ऑर्गनिज़ेशन है. इसका मिशन अंतरिक्ष को एक्सप्लोर करना और स्पेस मिशन आयोजित करना है. NASA में सामान्य कर्मचारी से लेकर इंजीनियर, साइंटिस्ट और एस्ट्रोनॉट तक काम करते है. इस लिए NASA में जॉब पाने के लिए आपको साइंस में माहिर होना पड़ेगा, और …