Universe

20 Unknown Facts About Universe (ब्रह्माण्ड के बारे में 20 रोचक तत्थ्य)

हमारा ब्रह्माण्ड अजीबोगरीब रहस्यों से भरा पड़ा है. और जीतन हम उसे और जानने की कोशिस करते है, वो हमे उतना और चोकाता है. चलिए आज जानते है ब्रह्माण्ड के 15 रोचक फेक्ट्स के बारेमे.

(1) ब्रह्माण्ड की सबसे बड़ी संरचना
द्रश्य ब्रह्माण्ड की सबसे बड़ी संरचना 11 अरब प्रकाशवर्ष चौड़ी है. जी हाँ दोस्तों, NQPNQ4 नाम की इतनी बड़ी संरचना हमारे ब्रह्माण्ड की सबसे बड़ी रचना है. विज्ञानं के अनुसार ब्रह्माण्ड में इतनी बड़ी रचना का होना एक बड़े आश्चर्य के सामान है. विज्ञानिक भी आश्चर्य में है के ब्रह्माण्ड में आखिर इतनी बड़ी संरचना कैसे बनी होगी?

(2) शुक्र ग्रह का एक दिन उसके साल से बड़ा होता है
ऐसा इस लिए होता है क्यों की शुक्र अपनी धरी पर बहोत ही धीमी गति से घूम रहा है. उसे अपनी धुरी पर एक चक्कर लगाने में पृथ्वी के पुरे 243 दिन लग जाते है. जब की सूर्य की परिक्रमा वो सिर्फ 225 दिन में पूरी कर देता है.

(3) अंतरिक्ष में जन्मे जिव पृथ्वी से तेज़ होते है.
रुसी संशोधानकर्तओ ने कुछ कोकरोज को अंतरिक्ष में ले जाकर उनका प्रजाजन करवाया. और पाया के अंतरिक्ष में जन्मे कोकरोज पृथ्वी के मुकाबले बहोत ज्यादा मजबूत, ताकतवर और तेज़ थे.

(4) विशाल छल्ला
पृथ्वी से 434 प्रकाश वर्ष दूर J1407B नाम का एक बड़ा ग्रह है. यह ग्रह गुरु और शनि से भी 40 गुना बड़ा है. इस ग्रह के बाहर बना छल्ला 12 करोड़ किलोमीटर तक फैला है. वैज्ञानिकों को लगता है कि J1407B में चंद्रमा बनने जा रहा है.

(5) हमारा सूर्य अंतरिक्ष से सफ़ेद दिखाई देता है
क्योकि पृथ्वी पर वातावरण है, और सूर्य का प्रकाश वातावरण की परतो से गुजरता हुआ प्रकिर्नित होकर हमे लाल केसरिया या पिला दिखता है. लेकिन अंतरिक्ष से सूरज अपने मूल रूप में सफ़ेद दिखाई देता है.

(6) आतारिक्ष की गंध
बहोत सारे अंतरिक्ष यात्रिओ ने बताया है के अंतरिक्ष की गंध किसी गर्म धातु या बुने हुए मांस की तरह है. वैसे तो अवकाश में वेक्यूम है, पर 100 फीसदी प्योर वेक्यूम भी नहीं है. वहां सुक्षम रूप में मेटल मोजूद है को स्पेस में रिसर्च करते वक्त अंतरिक्ष यात्रिओ के कपड़ो पर चिपक कटा है. और बाद में गर्म धातु की गंध के रूप में फिल होता है.

(7) पानी नहीं, सिर्फ बर्फ और गैस
ग्लिश 436B नामक ग्रह अपने तारे के बेहद करीब घूमता है. इस वजह से इसकी सतह का तापमान 439 डिग्री तक पहुंच जाता है. अथाह गर्मी से बर्फ सीधे गैसों में रूपांतरित हो जाती है. क्यों की इस ग्रह पे पानी नहीं लेकिन हाइड्रोजन है. और ग्रह के आस पास हाइड्रोजन के बादल बनने लगते हैं.

(8) तीन सूरज वाला ग्रह
HD 188 753 Ab पहला ऐसा ग्रह है जिसके पास तीन सूर्य हैं. इस ग्रह की खोज 2005 में पोलैंड के वैज्ञानिक ने की थी. वैज्ञानिकों ने ऐसे और ग्रह खोजने की कोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिली.

(9) चाँद पे इंसानों के कदम
चन्द्रमा पर गए हमारे अंतरिक्ष यात्रिओ के पैरो के निशान वहां अलगे दस करोड़ साल तक रहेंगे. क्यों की चाँद पे हवा पानी या वातावरण कुछ भी नहीं है. इस लिए धुल के रजकण जैसे के वैसे बने रहेते है. लेकिन अंतरिक्ष में धुमने वाला सूक्ष्म मेटल और उल्काओ के कण हमेशा चाँद की सतह पर गिरते रहते है. इस वजह से वो सूक्ष्म कण पाओ के निशानों को अलगे दस अरब सालो में भर देंगे.

(10) हर चीज़ परिवर्तनशील है
ब्रह्माण्ड में कुछ भी स्थाई नहीं है. हर चीज़ अपनी जगह से गति कर रही है. हमारी पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा कर रही है. और हमारा सूर्य सम्पूर्ण सौरमंडल को लेकर हमारी आकाशगंगा मन्दाकिनी के केन्द्र भाग की परिक्रमा कर रहा है. और हमारी आकाशगंगा मन्दाकिनी भी ब्रह्माण्ड में 552 किलोमीटर प्रति सेकण्ड की रफ़्तार से गति कर रही है. इस गति से वह हमारी पडोसी आकाशगंगा देवियानी से अगले 5 अरब वर्ष बाद टकरायेगी.

(11) हीरे से बना ग्रह
’55 Cancri E’ नाम का एक ग्रह पुरे का पूरा हीरे से बना है. ये ग्रह कर्क तारामंडल में स्थित है और पृथ्वी से तिन गुना बड़ा है.

(12) अंतरिक्ष पुर्णतः निशब्द है
ध्वनि को यात्रा करने के लिए माध्यम चाहिए होता है. और अंतरिक्ष में कोई वातावरण नहीं है. इस कारन अंतरिक्ष में हर समय सन्नाटा छाया रहेता है.

(13) तारकोल से भरा ग्रह
बाहरी ब्रह्मांड में ट्रेस-2b नाम का एक ग्रह भी मिला, जो अपने तारे से मिलने वाली सिर्फ एक फीसदी रोशनी को परावर्तित करता है. इसे ब्रह्मांड का अब तक खोजा गया सबसे काला ग्रह माना जाता है. ग्रह की सतह में असीमित तारकोल और उससे निकलने वाली गैसें हैं.

(14) पानी का स्त्रोत
वैज्ञानिको ने ब्रह्माण्ड में एक तैरते हुए पानी के स्त्रोत को धुंद निकला है. वहां पर पानी (H2O) भाफ के रूप में बड़ी मात्र में मौजूद है. जहाँ पर हमारी धरती के सारे महासागरो से 140 ख़राब गुना ज्यादा पानी है.

(15) शराब का महासागर
अगर आप ब्रह्माण्ड में पानी के भरे पड़े स्त्रोत से अचंबित हुए है तो उससे भी बड़ा अजूबा ब्रह्माण्ड में मौजूद है. जी हाँ, ब्रह्माण्ड में एक विशाल के शराब का महासागर भी है. हमारी आकाशगंगा के केंद्र से 390 प्रकाश वर्ष दूर Sagittarius B 2 नाम का एक बादल पूरा का पूरा इथाइल आल्कोहोल से बना है. और उसमे अरबो लीटर शराब का भंडार मोजूद है.

(16) सुंदर, लेकिन घातक
धरती की तरह दिखाई देने वाले इस नीले इस ग्रह का नाम है HD189733. लेकिन वहां जीवन के लिए कोई जगह नहीं. HD189733 का तापमान 1,000 डिग्री से ज्यादा है. वहां 7,000 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से खगोलीय बारिश भी होती है.

(17) एक और धरती
ग्लिश 581 C की खोज ने विज्ञान जगत को कौतूहल से भर दिया था. इसे धरती का जोड़ीदार मानते हुए जीवन के लिए मुफीद करार दिया गया. लेकिन जैसे जैसे ज्यादा जानकारी मिली वैसे वैसे कौतूहल खत्म होता गया. यह ग्रह गुरुत्व बल के संघर्ष में फंसा हुआ है. इसकी वजह से ग्रह का एक ही हिस्सा हमेशा प्रकाश की तरफ रहता है.

(18) सबसे बड़ी आकाशगंगा
Abell 2029 ब्रह्माण्ड की सब से बड़ी आकाशगंगा है. इसका ब्यास 56,00,000 प्रकाशवर्ष तक फैला हुआ है. और यह हमारी आकाशगंगा से 80 हुना ज्यादा बड़ी है. यह हमारी धरती से 107 करोड़ प्रकाशवर्ष दूर स्थित है.

(19) एलियन का अस्तित्व
ब्रह्माण्ड में सिर्फ पृथ्वी पर ही नहीं किन्तु कई और जगहों पर भी हम से ज्यादा या कम विकसित जिव होने की पुष्टि वैग्यनिकोने की है. हु सकता है के हम उनसे कभी ना मिले लेकिन ब्रह्माण्ड इतना विशाल है ले उसकी गहेरइयो में हमसे भी कई गुना ज्यादा विकसित सभ्यताए मोजूद होंगी.

(20) big bang से जन्मा रेडियेशन
जब आप का TV या कोई और आवाज़ पैदा करने वाला रेकोर्डर जब Music Set ठीक से नहीं चल रहा होता तब वो जो बेकार की आवाज़ पैदा करता है वो big bang (महाविस्फोट) के तुरंत बाद पैदा हुए रेडियेशन का नतीजा है. जो आज 15 अरब साल बाद भी अपना अस्तित्व बनाये हुए है.

अगर आपको यह लेख अच्छा लगाहो तो इसे शेयर और लाइक जरुर कीजिये. धन्यवाद्…

One Commnet on “20 Unknown Facts About Universe (ब्रह्माण्ड के बारे में 20 रोचक तत्थ्य)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *