बृहस्पति ग्रह (Planet Jupiter)

सौरमंडल का सबसे भारी और सबसे बड़ा ग्रह है बृहस्पति यानी Jupiter जिसे vacuum cleaner भी कहते है। सुर्य से 77 करोड़ 84 लाख 12 हज़ार किलोमीटर दूर और पृथ्वी से शुक्र के बाद अपनी आँखो से दिखाई देने वाला ये ग्रह इतना बड़ा है कि इसमे 1300 पृथ्वी समा सकती हैं। पृथ्वी से लगभग 360 गुना ज्यादा वजन है इसका और अपनी धरी पर सबसे तेज़ी से घूमने वाला Jupiter अपना एक दिन 9 घंटे और 56 मिनट मे पुरा करता है। और उसका एक साल पृथ्वी के 11.86 सालो के बराबर होता है। हम जिस Jupiter को देख पाते है असल मे वो उसकी सतह नहीं पर उसके इर्दगिर्द फेले हुए गैस के बादल है।

Jupiter की बनावट मे 90% हाइड्रोजन 10% मे हिलियम और कुछ मात्रा में मिथेन और अमोनिया भी पाए जाते है। Jupiter के 79 उपग्रह है और Jupiter पे तूफान जैसे हमेशा के मेहमान है। इस ग्रह पर बड़े बड़े तूफ़ान सालों से और लगातार चलते रहे है। यहा पर एक तूफान ऐसा भी है जो 300 सालो से चल रहा है, और इस तूफ़ान के अंदर हमारी 2-3 पृथ्वी आराम से समा सकती है। यहा हवाएं भी 192-400km प्रति घंटे की रफ्तार से चलती है। Jupiter मे अगर आप कूद पड़े तो अंदर ही धस्ते चले जायेंगे क्योंकि यहाँ कोई सतह ही नहीं है। Jupiter को 7 वी या 8 वी शताब्दी की बेबिलोनियन वासियों ने पहली बार देखा था।

अब तक Jupiter पर 7 यान भेजे गये है। इस ग्रह के विराटकाय होने की वजह से यह अधिकतर आवारा उल्कपिंडो को अपनी ग्रेविटी में खिच लेता है और एसे ये सालों से पृथ्वी को बचता आया है. Jupiter का मेग्नाटि फिल बोहत मजबूत है, जिसकी वजह से यहा खड़े होने पर हमारा वजन 30 गुना ज्यादा होगा। अगर आप पृथ्वी पर 100kg के है तो यहा 300 kg के होंगे।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!