Universe

आँखो में देखने वाला बिंदु जैसा डॉट (Floaters) क्या है?

कई बार हमारी आँखो के बीच हमें एक कला डॉट दिखाई देता है जो खिसकता भी है. कई बार एक नहीं पर दो तीन दिखाते है. इस डॉट को Floaters कहेते है.

दरसल हमारी आँखो में Retina और लेन्स के बीच Vitreous Humour नाम का ग्लिसीरीन प्रकार का एक तरल प्रवाही हमेशा मौजूद रहेता है. इस प्रवाही के साथ कई बार मरे हुए कोष (Cell) आँख मे यहाँ वहाँ घूमते रहेते है, जो काले धब्बे या डॉट के रूप में हमें ध्यान देने पर नज़र आते है.

इस काले धब्बी को नेत्रशास्त्र में Floaters कहा जाता है. जब हम सीधे सोते है तब ते प्रवाही बिचमे होता है इस लिए दिखता नहींहै. और खड़े होते ही वो नज़र के सामने फिसलते हुए दिखाई देता है. आम तौर पर अधिक उम्र वाले लोगों को Floaters की अनुभूति होती है. लेकिन चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं यह एक सामान्य बात है…

2 Comments on “आँखो में देखने वाला बिंदु जैसा डॉट (Floaters) क्या है?

  1. Imply relationships and dating exchange for sex. Usher services. Accompanying you in Kiev beautiful girls cash in place of sex. Claim b pick up our convoy phone and pick yourself a prostitute.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *